आखिर हमे सच क्यों बोलना चाहिए। सच बोलने के Five Scientific Benefit Facts

आखिर हमे हमेशा सच बोलने की कोशिश क्यों करनी चाहिए और वास्तव में इसके scientific फायदे क्या होते है।

दोस्तों आज के ज़माने में तो सब कोई यही बोलता है की वो कभी झूठ नहीं बोलता है लेकिन आज के दौर कुछ लोग ही है जो हमेशा सच बोलते है क्युकी हमेशा सच बोलना सबके बस की बात नहीं होती है।

लेकिन आपको शायद नहीं पता होगा की सच बोलने (Speaking Truth)के बहुत से scientific फायदे होते है चलिए जानते है दोस्तों उन फायदों को।

      1.सच बोलने की आदत से आपको लोग करेंगे पसंद :

people like you, telling true, always true

Friends जरा एक बार सोचो कि मान लेते है की दो लोग हैं जिनमे से एक हमेशा सच बोलता है और दूसरा झूठ बोलता है। तो यह बात साफ़ है कि झूठ का कोई सर पैर तो नहीं होता है इसलिए वह अपने झूठ को सच साबित नहीं कर सकता है । जबकि सच बोलने वाला निश्चित(Confidence के साथ ) होकर बोलता है। लोगो के लिए यही आपका Confidence कारण बनेगा जिससे लोग आपको पसन्द करेंगे।

Most Important–सच बोलने वाले व्यक्ति पर लोग अधिक Believe करते है क्युकी ऐसे लोग जल्दी दुसरो को धोखा नहीं देते है। 

      2.सच बोलने से आपके Personality में होगा गजब का  improvement :

personality development,unique personality

यदि आप सच बोलते हैं इसका मतलब की आप  खुद का Improvement करते चले जाएंगे । जरा सोचिए दोस्तों  एक Class के अंदर दो प्रकार के दो Student हैं जिसमे से एक सच बोलने वाला और दूसरा झूंठ बोलने वाला  और टीचर ने उनदोनों से पूछा कि सवाल समझ मे आया कि नहीं ?

सच बोलने वाला स्टूडेंट बोला नहीं और झूठ ‌‌‌बोलने वाला बोला आ गया । क्या आपको पता है अब यही से उन दोनों में बहुत बड़ा difference उत्पन्न होने लगता है।  सच बोलने वाला लड़का Life के अंदर आगे बढ़ जाता है और झूठ बोलने वाला लड़का अपने इस कमी के कारन खुद अंदर improvement नहीं कर पता और यह हर जगह पर होता है केवल Student Life की  बात ही नहीं हो रहे हैं

Important — जब आप सच बोलते हैं तो आपको पास दो Option  होते हैं और जब आप झूठ बोलते हैं तो आपके पास सिर्फ एक Option होता है और वो होता है झूठ

 

Read Also This: SELFIE POSITIVE AND NEGATIVE SIDE

        3.सच बोलने से अच्छे चरित्र का निर्माण होता है:

good and devil character, character,

ध्यान दे जब कोई बच्चा बचपन से ही झूठ बोलने लगता है तो जाहिर सी बात है की वह धीरे धीरेगलत चीजों को सीखने लग जाता है। अधिक्तर बात में झूठ बोलने लगता है और इससे पता चलता है की बच्चा गलत दिशा में जाने लगा है।  याद रखे झूठ हमे हमेशा गलत काम ही करना सीखाता है और सच हमें सही काम ‌‌‌करना सीखाता है । जो सच बोलता है वह कभी गलत बन ही नहीं सकता और जो हमेशा झूठ बोलता है वह अच्छा कुछ कर नहीं सकता । सच बोलने वाले इंसान का चरित्र सच के जैसा ही महान  और उत्कृष्ट हो जाता है और झूठ बोलने वाले का चरित्र झूठ के जैसा अस्तित्वहीन हो जाता है।

          4. सच बोलने से अपने दिल को सकून मिलता है:

man feel relax, realax

आपके साथ कई बार ऐसा होता होगा कि आप किसी बातों को छुपाते जाते हैं और आपके दिमाग के अंदर इतनी सारी बातें एकत्रित हो जाती हैं कि बाद मे आपको ऐसा लगता है कि यह सब बाते हमने अपने किसी दोस्त या करीबी से नहीं बताकर बहुत गलत काम किया है।

इस तरह के विचारो से आपके मन के ‌‌‌अंदर बोझ बना रहता है और आप अंदर ही अंदर से दुखी होते रहते हैं। लेकिन यदि आप इस तरह की बातों को बताने की कोशिश करे तो आपको अच्छा महसूस होगा और आपको अलग ही एहसास होगा । फिर दोस्तों आपको ऐसा लगेगा की जैसे आपको उपर से बहुत बड़ा वजन हट गया हो । कहने का मतलब है की आपको सच बोलने में बहुत अच्छा महसूस होगा जो झूठ बोलने में नहीं है।

          5 .सच बोलने से आपके जिंदगी में खुशहाली आ जाएगी:

happy life, people happy,

ध्यान रखे यदि आप किसी से कोई बात छुपाते हो तो आपको एक बात छुपाने के लिए कई सारे झूंठ बोलने पड़ सकते हैं। यह कई सारे झूठ आपको अंदर ही अंदर परेशान भी कर सकते है और आपकी जिंदगी इस झूठ के कारण नरक भी बन सकती है। आप मान सकते है की  किसी की पत्नी का कहीं ओर चक्कर चल रहा है तो वह अपने पति से यह सच छुपाने के लिए कई बार झूठ बोलती ‌‌‌रहती है और इस झूठ के कारण उसे यह डर सताता रहता है कि कहीं उसका झूठ उसके पति के सामने ना आ जाये और दूसरी तरफ उस औरत को देखें कैसे निश्चित रहती है जिसका कोई अफेयर नहीं रहा है। उसे किसी प्रकार का भय नहीं सताता है जिसकी वजह से सुख से रहती है।

इस कथन का तात्पर्य यह है की सच बोलने से आपके जिंदगी में अधिक खुशहाली बनी रहेगी।