गणतंत्र दिवस(Republic Day) के कुछ Amazing Facts जो आप नहीं जानते होंगे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •   
  •  
  •  


प्रत्येक भारतीय के लिए गणतंत्र दिवस(Republic Day) बहुत ही गर्व का दिन होता है और इसे भारत का प्रत्येक नागरिक बहुत ख़ुशी से मनाता है इसी दिन हमारे  देश का संविधान स्थपित किया गया था। लेकिन बहुत से गणतंत्र दिवस(Republic Day) के बारे में रोचक तथ्य(Amazing Facts) नहीं जानते है। इस Article में उन्ही Amazing Facts को जानेंगे।

1. क्या आप जानते है की 26 जनवरी 1950 को 10.18 मिनट पर भारत का संविधान लागू किया गया।

2. आपको जानकर आश्चर्य होगा की भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। इसके 448 आर्टिकल्स 22 हिस्सों, 12 शेड्यूल और 97 संशोधन है और इसके निर्माण में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था। भारतीय संविधान के वास्तुकार डॉ. भीमराम अम्बेडकर प्रारूप समिति के अध्यक्ष थे।

3. भारतीय संविधान (Indian Constitution) पूरी तरह हाथ से लिखा गया है जो हिंदी(Hindi) और अंग्रेजी(English) दोनों में है। हाथ से लिखी गई संविधान की मूल कॉपी को हीलियम से भरे बक्सों में संसद भवन की लाइब्रेरी में रखा गया है।

4. भारत के पहले राष्ट्रपति(President) डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने 26 जनवरी 1950 को राष्ट्रपति पद के लिए सपत ली थी।

Also Read : नये साल 1 जनवरी के बारे में कुछ Interesting Facts जानिए।

5. क्या आप जानते है की परेड के दौरान राष्ट्रपति को 21 तोपों की सलामी दी जाती है और ये सलामी भारतीय सेना की 7 तोपों से दी जाती है।  ये तोपें 1941 में बनाई गई थी।  राष्ट्रगान शुरू होते ही पहली सलामी और फिर 52 सेकंड बाद आखिरी सलामी दी जाती है।

6. गणतंत्र दिवस(Republic Day) की परेड के दौरान एक Christian Song(क्रस्चियन गाना)  Abide with Me को बजाया जाता है ऐसा इसलिए किया जाता है क्युकी ये मान्यता है कि यह गानां महात्मा गांधी के पसंदीदा गानों में से एक है।

7. हर साल 26 जनवरी पर किसी न किसी देश के व्यक्ति को मुख्य अतिथि(Chief Guest) के रूप में बुलाया जाता है। भारत के पहले गणतंत्र दिवस पर “इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णों” को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया था।

Also Read : आखिर हमे सच क्यों बोलना चाहिए। सच बोलने के Five Scientific Benefit Facts

8. एक समय ऐसा भी था जब गणतंत्र दिवस की परेड के लिए सन 1950 से लेकर 1954 तक कोई भी जगह(Place ) फिक्स नही था। गणतंत्र दिवस की परेड की कभी इर्विन स्टेडियम, किंग्सवे, लाल किला तो कभी रामलीला मैदान में गणतंत्र दिवस मनाया जाता था लेकिन फिर बाद में  1955 में परेड के लिए राजपथ को फिक्स कर दिया गया।

9. आप नहीं जानते होंगे कि गणतंत्र दिवस समारोह 3 दिन तक चलता है ऐसा इसलिए है क्युकी  29 जनवरी को विजय चौक पर “Beating Retreat Ceremony” का आयोजन करके गणतंत्र दिवस का समापन किया जाता है।

10. दोस्तों क्या आप जानते है की  मोर(Peacock) को भारत का राष्ट्रीय पक्षी(National Bird) 26 जनवरी 1963 को घोषित किया गया था

Also Read : इतनी गरीबी है यहाँ की यहाँ के लोग मिट्टी की रोटी खाते है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •   
  •  
  •  
Author: UniqueLifes

Get involved!

Get Connected!
Come and join our community. Expand your network and get to know new people!

Comments

No comments yet